किसानों की मेहनत पर बारिश ने फेरा पानी, दिवाली से पहले किसानो को भारी नुकसान

RAJASTHAN:-

राजस्थान में बेमौसम बारिश का दौर जारी है। आज राजस्थान के कई जिलों में बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने प्रदेश के कोटा, बूंदी, बारां , झालावाड़, जयपुर, अलवर, बांसवाड़ा, भरतपुर, भीलवाडा़, दौसा, चित्तौडगढ़, करौली, प्रतापगढ़, टोंक आदि जिलों में रविवार को जोरदार बारिश की चेतावनी जारी की है। जयपुर संभाग में कुछ जगहों पर भारी बारिश की संभावना है। इधर हाड़ौती अंचल में लगातार हो रही बारिश ने किसानों की करोड़ों रुपए की फसलें तबाह कर दी है। बताया जा रहा है कि यहां रविवार को सुबह से हल्की और तेज बारिश का दौर शुरू हो गया। काले बादल छाए हुए हैं।कोटा में हो रही बारिश के चलते यहां बांध लबालब है। जल संसाधन विभाग के अनुसार हाड़ौती में मध्यप्रदेश में हो रही मूसलाधार बारिश का असर भी पड़ रहा है। इसके चलते यहां चम्बल के सबसे बड़े बांध गांधी सागर के पांच स्लूज, राणा प्रताप सागर बांध के तीन, जवाहर सागर बांध के छह और कोटा बैराज के गेट 9 गेट खोलकर 1 लाख 7 हजार क्यूसेक पानी की निकासी की गई। इटावा क्षेत्र में जोरदार बारिश के चलते यहां सड़क दरिया बन गई। इससे यहां मंडियों में लाखों बोरी माल भीग गया है। फसलो का काफी नुकसान हुआ है।

दिवाली की खुशियों पर बारिश ने फेरा पानी
किसानों का दर्द गहरा है। क्योंकि किसानों के हाथ कुछ नहीं लग पाया। किसान ब्याज के ब्याज में कर्जदार होते जा रहे हैं। अगली फसल बुवाई के लिए भी किसानों के पास जेब में पैसा तक नहीं है। ऐसे में आसमानी आफत वाली बारिश ने किसानों की फसलों के साथ खुशियों की दीवाली का पर्व भी खराब कर दिया।

सीएम गहलोत ने दिए विशेष गिरदावरी के निर्देश
राजस्थान में लगातार हो रही बारिश को देखते हुए सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि बीते दो दिन में हुई भारी बारिश से कई जिलों में फसलों को नुकसान हुआ है। इन जिलों के कलेक्टर्स को निर्देशित किया है कि वे फसल खराबे की विशेष गिरदावरी कर किसानों को राहत दिलवाना सुनिश्चित करें।