राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के साथ उपचुनाव में दिखने के बाद देवी सिंह भाटी का घर वापसी फिर खटास में पड़ी

जयपुर :- 

भाजपा मे वापसी का इंतजार कर रहे तकरीबन एक दर्जन प्रदेश नेताओं मे से कुछ की वापसी का भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक 16-17 जनवरी बाद द्वार खुलने के संकेत हैं। भाजपा राष्ट्रीय महासचिव एवम प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह द्वारा  राजस्थान भाजपा संगठन नेतृत्व को कुछ नेताओं की भाजपा वापसी पर पार्टी हाईकमान की हरी झंडी प्रदान करने का फरमान देने के संकेत है। भाजपा के भरोसेमंद सूत्रों के मुताबिक कुछ नेताओं की भाजपा मे वापसी का कार्यक्रम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 28 जनवरी मालासेरी डूगंरी आसींद आगमन से पहले होने के आसार जताये है।


भाजपा आला हल्के मे खुशरफूशर है पूर्व मंत्री राजकुमार रिणवा की सरदारशहर उपचुनाव की वजह से भाजपा मे वापसी हो गई।लेकिन पूर्व मंत्री देवीसिंह भाटी की सरदारशहर उपचुनाव में आरएलपी के साथ लगने से वापसी फिर खटाई मे पड गई है। पूर्व मंत्री रोहिताश शर्मा, अनिता कटारा से भाजपा प्रदेश संगठन नेतृत्व की नाराजगी बरकरार है। पूर्व मंत्री सुरेंद्र गोयल अभी भी वापसी के प्रति ज्यादा इच्छुक नहीं है। हाँ, पूर्व सांसद सुभाष महेरिया(सीकर), पूर्व विधायक धनसिंह रावत(बांसवाड़ा) पूर्व जिलाप्रमुख बिंदु चौधरी(नागौर) विजय बंसल(भरतपुर) की भाजपा मे वापसी के द्वार खुलने के संकेत हैं।