केंद्रीय जलशक्ति मंत्री ने आरटीआई कार्यकर्ता के साथ बर्बरता पर सरकार पर दागे सवाल

जयपुर/जोधपुर  केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने बाड़मेर में आरटीआई कार्यकर्ता के साथ बर्बरता पर राज्य सरकार पर तीखा हमला बोला। शेखावत ने पूछा कि क्या राजस्थान में जनता की आवाज उठाने पर हाथ पैर तोड़ कर कील ठोक दी जाएगी?

गुरुवार को इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय मंत्री शेखावत ने कहा कि सीएम साहब इस बर्बरता को आप अपने तीन साल की किस उपलब्धि से जोड़ेंगे? ये कौन सा "प्रशासन गांवों के संग" कार्यक्रम है, जिसका नतीजा अपराधी तय कर रहे हैं? 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि तीन साल कम नहीं होते एक सरकार के लिए, लेकिन राजस्थान में जैसे सरकार ही नहीं है, इसके बावजूद जश्न जारी है। शेखावत ने इस घटना के अपराधियों पर जल्द से जल्द कार्रवाई की मांग की। उन्होंने कहा कि आरटीआई कार्यकर्ता को उचित इलाज और सुरक्षा मिले।