शिक्षक दिवस पर राजस्थान के मुख्यमंत्री ने शिक्षकों से पूछा कि ट्रांसफर कराने के लिए पैसे देने पड़ते हैं तो सभी ने एक स्वर में कहा देने पड़ते हैं


जयपुर :- राजस्थान के जयपुर में शिक्षक दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सभी शिक्षकों को संबोधित करते हुए अपने सरकार की उपलब्धियां बताई और उनके बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भ्रष्टाचार के मामले में अपनी सरकार के जीरो टोलरेंस की नीति सामने रखी ।


सभी शिक्षकों से पूछा कि क्या आज आपको ट्रांसफर करवाने के लिए पैसे देने पड़ते हैं तो सभी शिक्षकों ने एक स्वर में जवाब दिया "हां देने पड़ते हैं" उसके बाद मुख्यमंत्री खुद आश्चर्यचकित हो गए और कुछ बोलने की बजाएं अपने चेहरे पर हाथ फेरते हुए दिखाई दिए इससे साफ स्पष्ट होता है कि राजस्थान में किस प्रकार से शिक्षकों के तबादले में भ्रष्टाचार होता है!