प्रधानमंत्री ने केंद्रीय मंत्री शेखावत को पत्र लिखकर माताजी मोहन कंवर जी के निधन पर गहरा दुःख जताया

जोधपुर ।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को पत्र लिखकर उनकी माताजी मोहन कंवर जी के निधन पर शोक संवेदनाएं व्यक्त की हैं। प्रधानमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा कि मां की ममता और उनका स्नेह जीवन का सबसे बड़ा संबल होता है। 


शोक संदेश में प्रधानमंत्री ने लिखा कि आपकी माताजी श्रीमती मोहन कंवर जी के निधन के बारे में जानकर गहरा दुःख हुआ। इस कठिन समय में मेरी संवेदनाएं आपके और आपके पूरे परिवार के साथ हैं। 

कहा गया है - नास्ति मातृसमा छाया, नास्ति मातृसमा गतिः, नास्ति मातृसमं त्राण, नास्ति मातृसमा प्रिया। आपकी माताजी परिवार के सदस्यों के लिए सशक्त आधार और प्रेरणास्रोत थीं। आपके व्यक्तित्व और जन-कल्याण के प्रति आपकी निष्ठा एवं समर्पण भाव में आपकी माताजी के जीवन मूल्यों और उच्च आदर्शों की झलक स्पष्ट नजर आती है।


प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा कि आज आपकी माताजी सशरीर इस संसार में नहीं हैं, पर उनके द्वारा दी गई शिक्षा और संस्कार सदैव परिवार का मार्गदर्शन करते रहेंगे। ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वह दिवंगत आत्मा को शांति दें। शोक संतप्त परिजनों और शुभचिंतकों को दुःख सहन करने का धैर्य और साहस प्रदान करें।


राज्यपाल धनखड़ ने शोक संवेदनाएं व्यक्त कीं :

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल श्री जगदीप धनखड़ ने भी केंद्रीय मंत्री शेखावत को पत्र लिखकर माताजी मोहन कंवर जी के निधन पर शोक जताया है।